कीकली रिपोर्टर, 24 नवंबर, 2018, शिमला

प्रदेश सरकार द्वारा कन्याओं के उत्थान तथा महिला सशक्तिकरण के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही है। कन्याओं ने समाज के प्रत्येक क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देकर अपना व प्रदेश का नाम रोशन किया है। शिक्षा, विधि व संसदीय मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज ने यह विचार आज राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय लक्कड़बाजार में वार्षिक पारितोषक वितरण समारोह की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए।

भारद्वाज ने कहा कि प्रदेश में गुणात्मक तथा प्रतिस्पर्धात्मक शिक्षा प्रदान करने के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है जिसके लिए विभिन्न कार्यक्रम आरम्भ किए जा रहे हैं। महिलाओं की सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा प्रारम्भिक समय में ही गुड़िया हेल्प लाईन योजना आरम्भ की गई। इसके अतिरिक्त बेटी है अनमोल व अन्य कई योजनाओं के माध्यम से प्रदेश में बेटियों व महिलाओं को सबलता प्रदान की जा रही है।

उन्होंने युवाओं में बढ़ते हुए नशे की प्रवृति पर चिंता व्यक्त करते हुए अभिभावकों व शिक्षको से इसके प्रति कठोर कदम उठाने के निर्देश दिए तथा सहयोग की अपील भी की। उन्होंने कहा कि कन्याएं समाज को नशा मुक्त करने में अपनी अहम भूमिका अदा करें। उन्होंने कहा कि इस स्कूल की मुरम्मत सम्बन्धी मांग बहुत पुरानी है जिसे जल्द ही वक्फ बोर्ड से बातचीत कर सुलझाया जाएगा।

स्कूल के प्रधानाचार्य भूपेन्द्र ने आभार प्रकट किया तथा स्कूल की उपलब्धियों से अवगत कराया ।

भारद्वाज ने स्कूल की कन्याओं द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति के लिए 31 हजार रूपए अपनी ऐच्छिक निधि से प्रदान किए। उन्होंने इस स्कूल की छात्रा के आकस्मिक देहान्त पर उसके माता-पिता को 11 हजार रूपए जबकि स्कूल प्रबन्धन द्वारा 10 हजार रूपए की आर्थिक सहायता प्रदान की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here