Mothers Day – लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर और मातृ दिवस के अवसर पर आज जिला शिमला निर्वाचन विभाग व महिला एवं बाल विकास विभाग शिमला की ओर से जिला की सभी गर्भवती और धात्री महिलाओं को 01 जून 2024 को मतदान करने का निमंत्रण पत्र दिया गया है। इस बारे में जानकारी देते हुए अतिरिक्त उपायुक्त शिमला अभिषेक वर्मा ने बताया कि जिला शिमला की इस पहल के तहत जिला की कुल 6354 गर्भवती और धात्री महिलाओं (जिनके पास सक्रिय मतदाता पहचान पत्र हैं) को 01 जून को आवश्यक रूप से अपने मतदान केंद्र पर जाकर मतदान करने के लिए निमंत्रण पत्र दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि जिन गर्भवती और धात्री महिलाओं के सक्रिय मतदाता पहचान पत्र नहीं थे या जिनके मतदाता पहचान पत्र अपडेट नहीं थे, उनके पहचान पत्र बनवाने के लिए आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से 16 से 30 अप्रैल 2024 तक विशेष अभियान चलाया गया था। उन्होंने कहा कि आज महिलाएं हर क्षेत्र में पुरुषों के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर आगे बढ़ रही हैं। इसी कड़ी में मतदान में भी गर्भवती और धात्री महिलाओं की पूर्ण भागीदारी को सुनिश्चित करने के लिए इस पहल का आयोजन किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस पहल से महिलाएं सभी लोगों को यह सन्देश देंगी की जब गर्भवती और धात्री महिलाएं अपने मत का प्रयोग कर सशक्त लोकतंत्र के निर्माण में अपनी भूमिका निभा सकती हैं तो अन्य हर व्यक्ति भी यह कर सकता है। अभिषेक वर्मा ने बताया कि आज मातृ दिवस पर आंगनवाड़ी केंद्र और पंचायत स्तर पर विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर महिलाओं को मतदान के लिए  प्रेरित किया गया जिसमें नारा लेखन, चित्रकला और रैली का आयोजन किया गया। इसके अतिरिक्त, महिलाओं को मतदान सम्बन्धी शपथ की दिलाई गई और अन्य लोगों को भी 01 जून को आवश्यक रूप से मतदान करने के लिए प्रेरित किया गया। 

Mothers Day – लोकतंत्र में महिलाओं का महत्व – Loksabha Elections 2024

Previous articleLoksabha Elections 2024 – कांगड़ा सीट पर किसका दबदबा
Next articleक्या है काल अष्टमी?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here