बच्चे की काबिलियत पहचान, उसे बाहर निकालकर निखारना ही मुख्य लक्ष्य – अंजली मामिक

Date:

Share post:

कुलदीप वर्मा, कीकली रिपोर्टर, 5 सितम्बर, 2019, शिमला

शिक्षा के क्षेत्र में अपने सराहनीय प्रयासों के लिए शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज द्वारा सम्मानित शिमला व ठियोग के निजी व सरकारी स्कूलों के 54 शिक्षकों में शुमार शिमला के ई॰सी॰आई. शैलेडे स्कूल की अध्यापिका अंजली मामिक ने इस सम्मान को ‘शैलेडे टीम’ का सम्मान करार दिया है । अंजली ने कीकली से विचार व्यक्त करते हुए कहा कि, “जब आपके प्रयासों कों सराहा जाता है तो दिल को सुकून मिलता है और ये सूकून प्राप्ति अकेले मेरी न होकर मेरी सम्माननीय प्रधानाचार्या के मार्गदर्शन और मेरी साथी अध्यापिकाओं के सहयोग के रूप में ‘शैलेडे टीम’ का एफर्ट्स व हार्ड वर्क है” ।

अंजली के अनुसार राष्ट्र निर्माण में एक कामयाब सहयोग का एहसास कहीं न कहीं मन को प्रफुल्लित कर देता है और एक बार फिर दोगुनी ऊर्जा के साथ लक्ष्य प्राप्ति की साधना साधने का अविरल सफर नयी ऊर्जा संचार से परिपूर्ण होकर आगे बढ़ता चला जाता है ।

अंजली के अनुसार, “बच्चों को समझना आवश्यक है, केवल मात्र पढ़ाई पर ज़ोर देना काफी नहीं, ये समझना कि बच्चों कि काबलियत किस फील्ड में है और उसे किस तरह बाहर लाकर सख्ती व विनम्रता के एक बैलेंस के साथ निखार कर छात्र का भविष्य संवारा जा सके, सही मायनों में इस लक्ष्य की प्राप्ति व सफलता ही शिक्षक की कामयाबी है”।

अंजली ने कहा कि उन्हें गर्व है कि वे एक समय में शैलेडे कि छात्रा रहीं हैं। उन्होंने कहा कि इस बदलाव के दौर में उन्होंने पाया है कि किसी न किसी तरीके से बच्चे को एक्सेल करके बिल्डअप करना है और छुट्टी के बाद अक्सर बच्चों के बेटरमेंट का विचार मंथन अध्यापक के मस्तिष्क में हमेशा विचरण करता रहता है ।

शिमला में पली बढ़ीं व शैलेडे, तारा हाल व सेंट बीड्स शिक्षा संस्थानों से शिक्षा प्राप्त अंजली पिछले 15 वर्षों से शैलेडे में एक शिक्षिका के रूप में कार्यरत हैं । अंजली के अनुसार उनके स्टाफ ने हर पल उनका हौंसला बढ़ाया है और अभी भी वे अपने सीनियर से सीखने के क्रम में हैं । अंजली के अनुसार एक माँ की तरह प्रधानाचार्या आशिमा का प्रेम और मार्गदर्शन उन्हें हमेशा सही राह दिखाता रहा है तो वहीं एक अध्यापिका और एक सीनियर की तरह एक गलती पर आज भी उन्हें उनकी डांट का सामना करना होता है।

अंजली के साथ साथ शिक्षक सम्मान पाने वाले होनहार शिक्षकों में होली हेवन पब्लिक स्कूल भट्टाकुफर से विद्याचन्द शर्मा, हिमालयन पैरामाउंट मलयाना से हेमंत सिंह कंवर, आस्था पब्लिक स्कूल बनूटी से करिश्मा कुमारी, गलोबल पब्लिक स्कूल टुटू से गायत्री शर्मा, वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल संजौली से मोनिका रानी, कन्या वरिष्ठ माध्यमिक पोर्टमोर से प्रेम चंद शर्मा, बालुगंज स्कूल से जगदीश शर्मा, छोटा शिमला स्कूल के प्रधानाचार्य मीरा शर्मा, आर्य समाज स्कूल से कौशल्या वर्मा, ढली वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला से पूनम ठाकुर, लालपानी ब्वायज़ स्कूल से रणवीर सिंह, टुटीकंडी स्कूल से रेखा राणा, मैहली स्कूल से पूनम शर्मा, हिमालयन पब्लिक स्कूल कैथु से आनंदिता मित्रा, ट्रीनिटी इंटरनैशनल स्कूल फागु से ममता कश्यप, गंगा पब्लिक स्कूल खलिनी से रमा भारद्वाज, किड्स चॉइस चक्कर से अंजना भारद्वाज, एस॰डी. स्कूल गंज बाजार से विजय सिंह, फागली स्कूल से रमा रेटका, लक्कड़ बाजार गर्ल्स स्कूल से मोहेन्द्र शर्मा को सम्मान से नवाजा गया इसके अतिरिक्त विद्यापीठ निदेशक रविन्द्र अवस्थी व डॉ रमेश शर्मा और शिक्षा निदेशालाय में सेवारत डॉ सुनील कुमार सम्मानित हुए। इसके साथ साथ उप निदेशक उच्च शिक्षा कार्यालय में सेवारत शिक्षिका व सह सचिव भारत स्काउट एंड गाइड मीनाक्षी को भी सम्मान से नवाजा गया ।

इसके अतिरिक्त एसवीएम धामी से पूनम, हाई स्कूल भराड़ी से रजनी सेठ, प्रेम पब्लिक स्कूल ठियोग से गीता शर्मा, ज्ञान ज्योति पब्लिक स्कूल ठियोग से प्रोमिला झांगटा, मॉडर्न पब्लिक स्कूल फागु से हेमलता शर्मा, हिमालयन स्कूल ठियोग से गीता चंदेल, सेंट ज़ेवियर स्कूल संजौली से कमल शर्मा, टुटू वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल से कविता शर्मा, मोनाल पब्लिक सीनियर सेकेन्डरी स्कूल संजौली से पूनम खन्ना, खलिनी स्कूल से सीमा नेगी, केवी जतोग से वंदना, क्रिसेंट स्कूल टुटू से सुभाष शर्मा, बीएसएन स्कूल से प्रेम सिंह ठाकुर, शिशु शिक्षा निकेतन टुटू से कल्पना, संस्कृति स्कूल भराड़ी से अलका कौल, माउंट शिवालिक स्कूल जुब्बडहट्टी से शिल्पा वर्मा, शिमला प्रेजिडेंसी स्कूल घनाहटी से अनीता चौहान, डीएवी स्कूल टुटू से अमिता खन्ना, जेसीबी न्यू शिमला से रेखा बाली, जेसीबी खलिनी से राकेश कुमार शर्मा, मोनाल पब्लिक स्कूल संजौली से करुणा शर्मा, सिटि पब्लिक स्कूल से अनीता राज, सरस्वती पैराडाइज़ स्कूल भट्टाकुफ़र से नीरज वर्मा, ब्लू बेल्स स्कूल ढली से जयमाला कपूर, स्वर्ण पब्लिक स्कूल से ओमप्रकाश नेगी, आँचल पब्लिक स्कूल दूधली से वीना वर्मा, के.वी. जाखू से अर्पणा रे, एसवीएम विकासनगर से घनश्याम वर्मा, सेक्रेड हार्ट ढली से पूनम शर्मा, चैपसली भराड़ी से शैलीकांता, सेंट्रल तिबतियन स्कूल छोटा शिमला से सरोज बाला को शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करने पर सम्मान से नवाजा गया ।

YouTube player
YouTube player

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

Himachal Samachar 13 07 2024

https://youtu.be/NC43Zbpciw8?si=V8eoRSfrozYg-WEo Daily News Bulletin

CM describes bye-polls results as “victory of people over money power”

Following the victory of the congress candidates in two out of three Assembly Constituencies (ACs) in the recent...

खलग विद्यालय में भरे जाएंगे संगीत एवं रसायन विज्ञान के खाली पद – विक्रमादित्य सिंह

लोक निर्माण एवं शहरी विकास मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने आज शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक...

प्रदेश सरकार बेहतर सड़क सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उठा रही पुख्ता कदम: मुकेश अग्निहोत्री

उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा बेहतरीन तरीके से सड़क सुरक्षा के पुख्ता कदम उठाये...