एसजेवीएन द्वारा राज्य स्तरीय चिञकला प्रतियोगिता का आयोजन

Date:

Share post:

राजेश शर्मा, कीक्ली रिपोर्टर, 6 नवंबर, 2015, शिमला

राज्यपाल का बच्चों में देशभक्ति की भावना विकसित करने पर बल

SJVN-GRoup-B6.11.15aऊर्जा संरक्षण पर राष्ट्रीय जागरुकता अभियान और हिमाचल प्रदेश में बच्चों की चिञकला प्रतिभा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एसजेवीएन द्वारा शुक्रवार को राजभवन शिमला में राज्य स्तरीय चिञकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता का आयोजन भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय तथा ऊर्जा कार्यकुशलता ब्यूरो के तत्वाधान में प्रतिवर्ष किया जाता है। गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी स्कूल स्तर पर दो श्रेणियों में इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

यह प्रतियोगिता भारत सरकार के ऊर्जा एवं ऊर्जा बचत ब्यूरो मंत्रालय की ऊर्जा संरक्षण पर राष्ट्रीय अभियान के अंतर्गत आयोजित की गई थी। राज्यपाल ने अध्यापकों से बच्चों को महान पुरूषों एवं ऐसे राष्ट्रों, जहां के नागरिक अपने देश के कल्याण, उन्नति एवं विकास को सर्वोच्च महत्व देते हों, की कहानियां बताकर प्रेरित करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि बच्चों में समाज के जरूरतमंदों और गरीब लोगों के प्रति संवेदनशीलता तथा उनकी मदद करने में आगे आने की भावना विकसित की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब तक बच्चों में जरूरतमंदों के प्रति संवेदनशीलता, अनुशासन और देशभक्ति जैसे गुणों का प्रवाह नहीं किया जाता, जब तक वे अच्छे नागरिक नहीं बन सकते।

उन्होंने कहा कि युवा दिमाग में तेजी से ग्रहण करने की क्षमता होती है और बच्चों में अच्छे आदर्श और नैतिक मूल्यों का समावेश अध्यापकों का दायित्व है। उन्होंने अध्यापकों से आग्रह किया कि वे बच्चों को नशीले पदार्थों से होने वाले नुकसान बारे जागरूक करें। उन्होंने कि बच्चों को समाज के प्रति निस्वार्थ सेवा और पर्यावरण संरक्षण जैसे मुद्दों के बारे में जानकारी दी जानी चाहिए।

SJVN-GROUP-A6.11.15bआचार्य देवव्रत ने बच्चों को अपने परिवारों, आस-पड़ोस और समाज को ऊर्जा बचत के महत्व के बारे में शिक्षित करने के लिए आगे आने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि ऊर्जा की राष्ट्र विकास में महत्वपूर्ण भूमिका है और ऊर्जा की हर छोटी-छोटी बचत करना प्रत्येक नागरिक की जिम्मेवारी है। राज्यपाल ने सतलुज जल विद्युत निगम की विभिन्न कल्याणकारी गतिविधियों विशेषकर ऊर्जा संरक्षण के माध्यम से समाज के प्रति योगदान की सराहना की। उन्होंने बच्चों की असाधारण प्रतिभा के प्रदर्शन और प्रतियोगिता के अन्तिम स्तर तक पहुंचने, जहां वे राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा कर सकेंगे के लिए उन्हें बधाई दी। उन्होंने कहा कि बच्चों को जीवन में कड़ी मेहनत करनी चाहिए और कामयाबी हासिल करने के लिए अपने उद्देश्य को ईमानदारी, समर्पण तथा दृढ़ निश्चय के साथ सभी चुनौतियों का सामना करना चाहिए।

आचार्य देवव्रत ने प्रतियोगिता के प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान हासिल करने वाले विजेताओं को क्रमश: 20,000, 15,000 व 10,000 रुपये के पुरस्कारों के अतिरिक्त प्रत्येक वर्ग में 2500 रुपये के 10 सांत्वना पुरस्कार भी प्रदान किए। उन्होंने ज्यूरी के सदस्यों और खण्ड शिक्षा अधिकारियों को भी प्रतियोगिता के सफल आयोजन के लिए सम्मानित किया। निदेशक (वित्त) के.एस. बिन्द्रा ने सतलुज जल विद्युत निगम की उपलब्धियों पर प्रकाश डाला।

सतलुज जल विद्युत निगम के निदेशक (कार्मिक) नन्द लाल शर्मा ने राज्यपाल का स्वागत किया और प्रतियोगिता के मुख्य उद्देश्यों की जानकारी दी। सतलुज जल विद्युत निगम के महाप्रबन्धक ए.के. मुखर्जी ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस अवसर पर बच्चों द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया। राज्य के विभिन्न स्कूलों के लगभग 100 बच्चों ने प्रतियोगिता में भाग लिया।

ज्यूरी के सदस्यों में प्रो. हिम चटर्जी और हि.प्र. विश्वविद्यालय से डा. पवन चौहान और प्रारम्भिक शिक्षा के अतिरिक्त निदेशक एम.एल. आजाद, सतलुज जल विद्युत निगम के अधिकारी एवं कर्मचारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Winners of Category ‘A'(3rd to 5th )

Winners of Category ‘B'(7th to 9th)

Prize        NameSchoolPrizeNameSchool
FirstUtkarshSt. Edwards’ School, ShimlaFirstDiya TanwarArmy Pub. School, Dagshai, Solan
SecondArpan ChaudharyDayanand Public School, Shimla.SecondAryan VermaDAV Sr. Sec. School Lakkar Bazar, Shila
ThirdRadha RaiDAV Sr. Sec. School Narwana, Yol, Kangra,ThirdMannatLoreto Convent, Tara Hall, Shimla
ConsolationConsolation

1.

Sunil SherpaGSSS Nuegalsari, Kinnaur

1.

KavitaDAV Sr. Sec. School, Narwana Yol, Kangra

2.

ShakshiGPS Pharer, Kangra,

2.

Bhakti Priya DhimanGSSS Gagret, Teh. Amb, Una

3.

Roop LalGPS Tutikandi, Shimla

3.

Priya GuptaDaya Shankar Public Daddi Bhola, Ramshahar, Solan,

4.

KajalSavitri Public School, Rangoli, Hamirpur,

4.

Payal Roy MistryJHCP Township Sarainghat, Tatoh, Bilaspur,

5.

Ananya PandeyJP Vidya Mandir, JHPC Township, Tatoh, Bilaspur,

5.

Shagun GuptaJHCP Township Sarainghat, Tatoh, Bilaspur,

6.

SujalDAV Lakkar Bazar, Shimla.

6.

Kamal LalGHS Malokhar, Teh. Sadar, Bilaspur,

7.

Arshiya BhardwajDPS, Jhakri, Shimla

7.

Abhiuday ChauhanSt. Edwards’ School, Shimla.

8.

ShivangDAV New Shimla, Shimla,

8.

Anvi KapoorDPS Jhakri, Shimla.

9.

AnkitaDAV Public School, Shimla

9.

Ankita DangiDAV Pub. School, New Shimla.

10.

RaghavSt. Edwards’ School, Shimla.

10.

PrakritiAuckland House School, Shimla,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Related articles

Possibilities of merging schools having low enrolments to be explored

Chief Minister Thakur Sukhvinder Singh Sukhu said that the state government was laying special focus on providing quality...

Himachal Samachar 23 07 2024

https://youtu.be/ZXToC9V3aWY Daily News Bulletin

शिमला में 15 सितंबर तक साहसिक खेल गतिविधियों पर प्रतिबंध

जिला पर्यटन विकास अधिकारी संजय भगवती ने आदेश जारी करते हुए बताया कि बरसात के मौसम के दौरान...

Kargil Vijay Diwas Rajat Jayanti Mahotsav to be held in Shimla

Headquarter Army Training Command located at Shimla is celebrating 'Kargil Vijay Diwas Rajat Jayanti Mahotsav' at The Ridge,...