प्रदेश के सभी महाविद्यालयों में लोक प्रशासन विषय को शैक्षणिक सत्र मे विषय के रूप जल्द पढ़ाया जाए: (अभाविप हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय रिसर्च स्कॉलर एसोसिएशन)प्रदेश महाविद्यालयों में लोक प्रशासन विषय में पड़े सभी रिक्त पदों को जल्द भरा जाए : अभाविप सरदार वल्लभ विश्विद्यालय में लोक प्रशासन विषय को शुरू किया जाए: अभाविप।आज हि० प्र विश्विद्यालय में लोक प्रशासन विभाग के शोधर्थियो ने विद्यार्थी परिषद के साथ मिलकर प्रदेश भर में लोक प्रशासन विषय से जुड़ी हुई मांगो को लेकर लोक प्रशासन विभाग मे चर्चा की.मीडिया को जानकारी देते हुए लोक प्रशासन विभाग के शोधार्थी रमेश कुमार ने कहा कि प्रदेश भर में मात्र 34 ऐसे महाविद्यालय है जहा इस विषय को वर्तमान में पढ़ाया जा रहा है , जबकि प्रदेश भर मे महाविधालय की कुल संख्या 137 है और इसमें भी केवल 27 महाविद्यालय मे ही इसके पदो को भरा गया है. उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश के सभी महाविद्यालयों में लोक प्रशासन विषय को पढ़ाया जाए ।

उनहोंने कहा कि लोक प्रशासन विषय मे ऐसे हजारो छात्र है जिन्होंने M.A., M.Phil और Ph. D कर रखी है लेकिन फिर भी बेरोजगार है. इसलिये हमारी सरकार से मांग रहेगी कि इस विषय के महत्व को समझते हुऐ उचित निरणय ले और हम सभी छात्रों का भविष्य बर्बाद होने से बचायें.बैठक मे सभी शोधर्थियो ने माग रखी कि प्रदेश के सभी महाविद्यालयों में लोक प्रशासन विषय को पढ़ाया जाए और सभी महाविद्यालयों में शिक्षको के पदों को भी जल्द भरा जाए।लोक प्रशासन विषय में उच्च शिक्षा निदेशालय द्वारा मात्र सात पदों की सिफारिश की गई है, जिसे कैबिनेट कमेटी ने भी मंजूरी दे दी है , लेकिन ये सीटे पर्याप्त नही है क्यूंकि वर्तमान में लोक प्रशासन विषय में नेट /सेट योग्य विद्यार्थियों की संख्या में बहुत अधिक बढ़ोतरी हुई है। इसलिए लोक प्रशासन विषय की सीटो में बढ़ोतरी की जाए।और साथ ही उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभ भाई कलस्टर विश्विद्यालय में भी लोक प्रशासन विषय को जल्द शुरू किया जाए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here