भीम सिंह, गांव देहरा, डाकखाना हटवाड़, उप-तहसील भराड़ी, जिला बिलासपुर, हिमाचल प्रदेश।

खाओ पियो तुम ऐश करो
मगर घाटे का बजट मत पेश करो
सम्भल कर खर्चो पाई-पाई जोड़ो
दुनिया में अपनी इक अलग छाप छोड़ो ।

बेरोजगार नौजवान आज रो रहा है
हर जगह इनका शोषण हो रहा है
इस तरफ सोचो, इस तरफ कुछ करो
फिर जनता साथ है तुम मत डरो ।

शहरों के पास झोपड़ियां जिन्दा हैं
हर इन्सान को कर रही शर्मिंदा हैं
मंहगाई ने पूरी लूट आज है मचाई
कुछ तो इस तरफ करो मेरे भाई।

नारी शोषित हो रही है संसार में
ज्यादा कमी नही है नारी अत्याचार में
तुम कोई ऐसा करो उपाय
नारी को कोई गलत छू न पाये।

तुमसे आस लगाये बैठे हैं नर-नारी
इनकी पीड़ा हरो तुम आज सारी
जनता का जीत लो तुम विश्वास
सारी बागडोर तुम्हारे हाथ ।

तुमको राजा बना गददी पर बैठाया
जनता ने क्या बताओ गलत कमाया
अब अगर सही तुम करोगे काम
जनता तभी दुवारा लेगी तुम्हारा नाम।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here